7 चीजें जो घर को बना सकती हैं बच्चों के लिए खतरनाक

शेयर करें
प्रियंका तिवारी, गेस्ट राइटर

बच्चों की बेहतर देखभाल को लेकर, दुनिया भर में बहुत सी बाल विषेशज्ञ संस्थाओं द्वारा तरह तरह के सर्वे किए गए हैं। जिनमें से घर के अन्दर होने वाले खतरों को सबसे अधिक चिंताजनक बताया गया है। इनके मुताबिक अगर हम कुछ छोटी छोटी बातों पर ध्यान देना शुरू कर दें, तो बच्चों के साथ घर के अन्दर होने वाले इन हादसों को आसानी से टाला जा सकता है।

1. किचन से रखें दूर- अक्सर बच्चे मां को किचन में काम करता देखते हैं और फिर उन कामों को खुद भी करने की कोशिश करते हैं। सब्जी व फल को चाकू की मदद से काटना, गैस आॅन आॅफ करना, फाॅक से खाने की कोशिश, मिक्सर ग्राइन्डर व माइक्रोवेव का इस्तेमाल कई ऐसे काम है जिन्हें करते वक्त बच्चे अपने आप को नुकसान पहुंचा लेते हैं। इसके अलावा दालचीनी पाउडर व दूसरे सभी मसालों को भी बच्चों की पहुंच से दूर रखें। क्योंकि कई बार बच्चे इन्हें खा लेते हैं और फिर उनका गला इस तरह चोक हो जाता है कि हमें ना चाहते हुए भी हास्पिटल के चक्कर लगाने पड़ते हैं।

2. बाथरूम में न जाने दे अकेले- बाथरूम में मौजूद लिक्विड डिटरजेंट, शैम्पू के अलावा साबुन, टाॅयलेट व फर्श क्लीनर आदि को बच्चों की पहुँच से ऊपर रखें, क्योंकि कई बार बच्चे उन्हें खा या पी सकते हैं। इसके अलावा बाथ टब के टैप को लाॅक व वेस्टर्न टाॅयलेट को कवर करके रखें ताकि आपकी गैरमौजूदगी में बच्चे उसमें न फंसे।

3. कांच के सामान और फर्नीचर से रहे सावधान – घर में मौजूद कांच के बर्तनो को बच्चों की पहुँच से दूर रखें या लॉक करके रखें। छोटे बच्चों वाले घर में खासकर उनके रूम में कांच से बने बने फर्नीचर का इस्तेमाल ना करें। खेलते वक्त इनसे बच्चें को चोट लग सकती है।

4. इलेक्ट्रिक आइटम हो सकते हैं जानलेवा- आमतौर पर फ्लैट स्क्रीन टीवी सभी के घर पर होती हैं। यदि आपने इसे किसी कम ऊंचाई वाली टेबल पर रखा हुआ तो यह भी हमारे बच्चे को खतरे में डाल सकता है। क्योंकि बच्चे मेज के आसपास खेलते हुए उस पर चढ़ने की कोशिश करते हैं और टीवी को अपने ऊपर गिरा सकते हैं। इसके अलावा घर में मौजूद बच्चों की पहुंच वाले बिजली के स्विच बोर्ड खासतौर पर प्लक को कवर करके ही रखें। प्रेस, रूम हीटर, वाशिंग मशीन, व सभी चार्जर आदि को अनप्लग करना बिल्कुल ना भूलें।

5. एक्सरसाइज मशीन भी हैं खतरा- कई बार हमारी सेहत का सामान बच्चों की सेहत को ही नुकसान पहुंचा सकता है। ट्रेड मिल, फिक्स बाइसिकल्स व कई ऐसी मशीने हैं जो बच्चों को मौत के मुंह तक पहुंचाने के लिए काफी हैं। कोशीश करें ऐसा सामान जिस रूम में हो उसे लाॅक करके रखें और सभी मशीन को अनप्लग हों।

6. पौधों का करें विशेष चयन – घर की सुन्दरता को बढ़ाने के साथ घर में लगे पेड़ पौधे यहां की हवा को साफ भी रखते हैं। लेकिन कई बार हम ऐसे पौधों को अपने घर पर लगाते हैं जिनकी पत्तियां चबाने पर सेहत के लिए नुकसान दायक साबित होती हैं। छोटे बच्चे इस बात से अन्जान होते हैं और हमारी गैर मौजूदगी में अक्सर पत्तियों को मुंह में डालकर चबा जाते हैं। इसीलिए बच्चों के बड़ा होने तक घर में लगाए जाने वाले पौधों का चयन थोड़ा सोच समझ कर ही करें।

7. लकड़ी के रैक्स को करें दिवार के साथ मज़बूती से फिक्स – जी हाँ दिवार के साथ लगे बुक रैक्स, शू रैक्स, या अलमारियां आपके छोटे बच्चों के लिए एक बहुत बड़ा ख़तरा हो सकती है। बच्चों को इस तरह के रैक्स पर चढ़ना पसंद होता है। इनपर चढ़ते हुए ये आपकी गैरमौजूदगी में बच्चे पर गिर सकते हैं और बच्चा इसके नीचे दब सकता है। ऐसे मैं इस तरह के रैक्स को कील और स्क्रू के मदद से अच्छे से दीवार के साथ फिक्स कर दें। ताकि कोई हादसा न हो सके।

इस तरह हम छोटी छोटी ही सही लेकिन इन मोटी बातों को ध्यान में रखकर अपने बच्चे को पूरी सेफ्टी के साथ खेलते कूदते बड़ा होते हुए देख सकते हैं।